spot_img

लेटेस्ट न्यूज

Zee Sony merger: NCLT ने विलय पर लगाई मुहर, शेयर खरीददारों में मची हलचल, 16% चढ़ गया भाव

Zee Sony Merger: नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (NCLT) को मुंबई पीठ ने गुरुवार को ज़ी-सोनी के मर्जर को अंतिम मंजूरी दे दी। जिसके साथ ही शेयरों में तेजी देखी गई है।

Zee Sony Merger: नेशनल कंपनी लॉ आर्बिट्रेशन की बॉम्बे बेंच ने ज़ी सोनी के विलय को मंजूरी दे दी है। विलय की सभी बाधाएं अब दूर हो गई हैं। 10 जुलाई को न्यायिक सदस्य एचवी सुब्बाराव और तकनीकी सदस्य मधु सिन्हा की पीठ ने विलय मामले में आदेश बरकरार रखा। इस सकारात्मक खबर से जी एंटरटेनमेंट के शेयर रॉकेट की तरह दौड़ने लगे. गुरुवार को हफ्ते के चौथे कारोबारी सत्र में जी एंटरटेनमेंट के शेयर 16 फीसदी तक चढ़ गए. कंपनी का शेयर 281.60 रुपये पर कारोबार कर रहा था.

जानकारी के लिए बता दे कि मुंबई की एनसीएलटी पीठ ने दो मीडिया कंपनियों की मिलाने की मंजूरी देने से, जिनकी मौजूदा मूल्य 10 अरब डॉलर है, एक महत्वपूर्ण मीडिया कंपनी की उत्पत्ति के रास्ते को खोल दिया है। इसके बाद यह देश की सबसे बड़ी कंपनी बनेगी। जी-सोनी मर्जर की घोषणा 2021 में हो गई थी, लेकिन कई कारणों से इसकी प्रक्रिया में देरी हो गई है।

एच वी सुब्बा राव और मधु सिन्हा ने मिलकर इस विलय को मंजूरी दी। 11 जुलाई को एनसीएलटी ने कई कर्जदाताओं की समस्याएँ सुनकर फैसला दिया कि इस विलय को आगे बढ़ाने का आदेश दिया जाए। न्यायाधिकरण ने एक्सिस फाइनेंस, जेसी फ्लावर एसेट रिकंस्ट्रक्शन कंपनी, आईडीबीआई बैंक, आईमैक्स कॉर्प और आईडीबीआई ट्रस्टीशिप जैसे कर्जदाताओं की मान्यता पर खरा उत्तर दिया। दिसंबर 2021 में, ज़ी एंटरटेनमेंट और सोनी पिक्चर्स ने तय किया कि वे आपस में मिलकर काम करेंगे। इसके बाद, उन्होंने नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई), बीएसई, सेबी और भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग जैसे नियामक संगठनों से विलय की मंजूरी प्राप्ति के लिए न्यायाधिकरण से भी संपर्क किया था

Zee Sony Merger के बाद शेयर 16% से ज्यादा चढ़ा

इस सौदे को मंजूरी मिलने की खबर आने के बाद जी के शेयर 16% से भी ज्यादा बढ़कर, 39.20 रुपए तक पहुँचकर 281.45 रुपए पर बंद हुआ। पिछले एक महीने में यह शेयर लगभग 40% बढ़ गया है। साथ ही, पिछले 6 महीनों में शेयर ने 28.90% और पिछले 1 साल में 13.47% की रिटर्न दिया है। विशेषज्ञों का कहना है कि 2023 में स्टॉक में करीब 15.78% की तेजी देखि गयी है।

2021 में मिली थी विलय की मंजूरी

2021 के दिसंबर महीने में, ज़ी एंटरटेनमेंट और सोनी पिक्चर्स ने एक साथ काम करने का निर्णय लिया था। इन दो मीडिया समूहों ने नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई), बीएसई, भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग, और भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) जैसे नियामक संगठनों की मंजूरी प्राप्त करने के लिए न्यायाधिकरण से मिलकर बात की थी।

कंपनी घाटे में है

प्रमुख मीडिया कंपनी जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड को चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में 63.42 करोड़ रुपये का वार्षिक घाटा हुआ है। अतिरिक्त लागतों के कारण कल्चर मैक्स सहित विलयों को नुकसान हुआ है। पिछले साल की समान अवधि में कंपनी को 106.60 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था। इस बीच चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में आय 6.46 फीसदी बढ़कर 1998.28 करोड़ रुपये हो गई है.

जानें Business News से जुडी लेटेस्ट खबरें, Share Market की लेटेस्ट अपडेट्स के बारे में सबकुछ।

जरूर पढ़ें

Latest Posts

ये भी पढ़ें-